हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है ? हिंदी दिवस पर स्लोगन

हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है ? हिंदी दिवस पर स्लोगन
hindi diwas

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका allhindiway में। दोस्तों जैसा की हिंदी विषय हम सब ने स्कूल में पढ़ा है और हमारी मातृभाषा भी हिंदी ही है। क्या आप जानते है की  Hindi diwas kyo manaya jata hai ? जानते है तो अच्छी बात है अगर नहीं भी पता तो आज हम आपको हिंदी दिवस के बारे में अच्छे से बताएँगे। 

जैसा की आप सभी को पता है की हिंदी दिवस भारत में  हिंदी दिवस के रुप में मनाया जाता है। और हिंदी दिवस हिंदी भाषा से अच्छी तरहा से जुड़ा हुआ है। और आपको ये भी बता दे की हिंदी दिवस वाले ही दिन हिंदी भाषा को भारत की राजभाषा का दर्जा मिला था।

तभी से ही हर साल हिंदी दिवस मनाना प्रारम्भ कर दिया।  हिंदी भाषा हमारे भारत देश की  मात्र भाषा है। हिंदी दिवस मनाने का कारण लोगों को हिंदी भाषा के प्रति जागरूक करना है।  

आज भी ऐसी कई जगह है जैसे ऑफिस, दुकान , दफ्तर , जहां पर हिंदी भाषा का इस्तमाल सही से नहीं किया जाता है। और  हिंदी दिवस मनाने का कारण लोगो को हिंदी के प्रती जागरूक करना है। ताकि लोग समझ सके की हिंदी भाषा से सभी काम अच्छे से किये जा सकते है।

बहुत से लोग यह मानते है की हिंदी में सभी काम नहीं किये जा सकते है।  तो इसलिए मैंने भी सोचा की क्यों न लोगो हिंदी दिवस के बारे बताया जाये की हिंदी दिवस क्यों मानते है ? तो चलिए अब हम  सीधा पॉइंट की बात करते है। तो पहले हम को बताएँगे की हिंदी दिवस क्या है ?

"<yoastmark

हिंदी दिवस क्या है ?

हिंदी दिवस वह दिन है जिस दिन भारत में सबसे अधिक बोले जाने वाली हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा मिला था जब हिंदी भाषा को राजभाषा का दर्जा मिला तो बहोत से लोगो ने विरोध करना चालू कर दिया लोगो ने लड़ाई , दंगे पसाद  करने लगे परन्तु जैसे ने जैसे करके हिंदी को राजभासा का दर्जा मिल कर ही रहा।

हिंदी दिवस वाले दिन बहूत से कार्यक्रम भी किये जाते है।  जिसमे कविताये , हिंदी लेख , गीत , आदि पर प्रतीयोगीता करवाई जाती है। मतलब  हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के लिए काफी किर्याकर्म किये जाते है। ताकि लोग ज्यादा से ज्यादा  हिंदी से जुड़े रहे और अपनी मात्रभाषा को ही महत्व दे।

और हाँ बहूत से हिंदी प्रेमी हिंदी दिवस पर रोस करते है।  हिंदी प्रेमी ये बोलते है की सरकार हिंदी दिवस को साल बाद ही क्यों मानवती है उनका कहना यह है की हिंदी दिवस पर कुछ न कुछ कार्येक्रम चलता रहना चाहिए।

ताकि लोग हिंदी भाषा से जुड़े रहे और आज कल बहूत से जहगा ऐसी है जहा पर हिंदी लिखावट वे बोलचाल नहीं होता है।  होता भी है तो ना के बराबर होता है।

और आज तक भी हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा नहीं मिल पाया, कॉलेज, स्कूल ,ऑफिस में होने वाले प्रोग्रामो में और यहां तक की  हिंदी कार्येक्रम में भी उचित प्रकार से हिंदी का इस्तमाल नहीं किया जाता ।

और विदेशी भाषा का इस्तमाल  किया जा रहा है। इसलिए हमने ने सोचा क्यों न लोगो को जागरूक किया जाये बताया जाये की Hindi diwas kyo manaya jata hai ?    

हिंदी दिवस कब मनाया जाता है ?

14 सितंबर को  भारत  में हिंदी दिवस मनाया जाता है। सरकारी विभागों में हिंदी की प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं। साथ ही हिंदी को बढ़ावा देने के लिए  सप्ताह का आयोजन किया जाता है। स्कूलों में भी हिंदी प्रतियोगिताएं आयोजित करवाई जाती है

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कहा था कि इस दिन के महत्व को देखते हुए हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाएगा। बता दें, 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस भी मनाया जाता है।

हिंदी  भाषा भारत में सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषा है।  और इसे राजभाषा का दर्जा मिला हुआ है। 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा में हिंदी को राजभाषा का दर्जा दे दिया गया था।

हिंदी के महत्व को बताने और इसके प्रचार करने के लिए हिंदी भाषा के प्रती लोगो को जागरूक करने के लिए  1953 से प्रतिवर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाने लगा।

1918 में हिन्दी साहित्य सम्मेलन में भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए पहल की थी।इस पर साल 1949 में स्वतन्त्र भारत की राजभाषा के प्रश्न पर 14 सितंबर 1949 को काफी विचार करने के बाद यह निर्णय लिया गया था।

कि राष्ट्र की राज भाषा हिन्दी और लिपि देवनागरी होगी। क्योंकि यह निर्णय 14 सितंबर को लिया गया था। और  इसी वजह से  भी 14 सितंबर  हिन्दी दिवस के रूप में घोषित कर दिया गया। अब हम बात करेंगे की हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है ?

हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है ?

अब बात आती है की हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है ? तो इसका सवाल का जवाब भी है जैसा की भारत की 75 % लोग हिंदी भाषा बोलते है।  हिंदी में ही लिखते है हिंदी में ही बोलते है

क्योकि हिंदी हमारी प्रमुख भाषा है।  परन्तु आज तक हमारी हिंदी भाषा को राष्ट्रभाषा का दर्जा अभी तक नहीं मिला है।  और आज कल देखा जाये तो कही बी स्कूलों में , दफ्तरों में,  और इंटरवियु में भी अंग्रेजी भाषा को ही ज्यादा महत्व दिया जाता है।

अब देखा जाये तो लोग हिंदी बोलने से डरते भी लगे है की कही उनकी हिंदी बोलने से इज्जत ख़राब न हो और हिंदी को भाषा को भूलते जा रहे है आज के समय में हिंदी भाषा लोगों के बीच से कहीं-न-कहीं गायब हो रही है और इंग्लिश ने अपना  पख अच्छा कर लिया है ।

अगर समय कुछ सालो और ऐसा रहा  तो वो दिन दूर नहीं जब हिंदी भाषा हमारे बीच से गायब होती चली जाएगी। हमें यदि हिंदी भाषा को बना के रखना है तो इसके प्रचार-प्रसार को और ज्यादा बढ़ाना होगा।

सरकारी कामकाज में हिंदी का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करना होगा।  तभी हम अपनी हिंदी भाषा को और लम्बे समय तक जीवित रख सकते है।

और जो भी हम हिंदी दिवस पर प्रतीयोगीताए करवाते है।  यह सब इसी लिए करवाते है ताकि हमारी हिंदी भाषा हमारे बीच हमेशा बानी रहे।     और लोग हिंदी भाषा के प्रति और जागरूक हो.

और हमारा मकसद भी अब यही है की आप तक सभी प्रकार से जुडी जानकारी हिंदी भाषा में ही दे।  और इसलिए ही  को याद रखने लोगो को जागरूक रखने के लिए हिंदी दिवस मनाया जाता है।

Hindi diwas kaise manaya jata hai ?

हिन्‍दी दिवस वाले दिन बहुत कार्यक्रमों का आयोजन होता है. स्‍कूलों, कॉलेजों और  शैक्षणिक संस्‍थानों में निबंध प्रतिया,  वाद-विवाद प्रतियोगता, कविता पाठ, नाटक, और प्रदर्शनियों का आयोजन किया जाता है. इसके अलावा सरकारी दफ्तरों में हिन्‍दी पखवाड़े का आयोजन होता है.

यानी कि 14 सितंबर से लेकर अगले 15 दिनों तक सरकारी दफ्तों में विभिन्‍न प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं. यही नहीं साल भर हिन्‍दी के विकास के लिए अच्‍छा काम करने वाले सरकारी दफ्तरों को पुरस्‍कार  भी दिये जाते है।

और आपको यह भी बता दे की हिंदी दिवस पर दिए जाने वाले पुरस्‍कार कौन से है ? इसके बारे में भी आपको पता होना चाहिए हिंदी दिवस दिए जाने वाले पुरस्‍कार राजभाषा गोरव और राजभाषा कीर्ति पुरस्‍कार हिंदी दिवस को ही दिए जाते है।

  • राजभाषा गोरव पुरस्‍कार –  यह पुरस्‍कार ऐसे व्यक्ति दिया जाता है जो तकनिकी या विज्ञानं विषय में हिंदी में पुस्तक या लेख अच्छे से लिखा हो.
  • राजभाषा कीर्ति पुरस्‍कार राजभाषा पुरस्‍कार उस व्यक्ति  देते है जो अपनी संस्था में  कार्यालय में ज्यादा हिंदी का प्रयोग करता हो और हिंदी भाषा को हमेशा बढ़ावा देता हो। तो अब भी आप यह जान गए होंगे की Hindi diwas kyo manaya jata hai ? और अपने आस पास भी हिंदी भाषा को बनाये रखे  और लोगो को साथ इस लेख को share जरूर करे ताकि हिंदी भाषा हमारे बीच बनी रहे।

Hindi diwas  par  slogan or nare

1 *भारत माँ के भाल पर सजी स्वर्णिम बिन्दी हूँ
मैं भारत की बेटी, आपकी अपनी हिन्दी हूँ,,,,

2 *हिन्दी देश की भावना है

स्नेहिल शुभकामना है…

3  *दीप से दीप जलाए जा,हिंदी भाषा का ज्ञान फैलाए जा।

 

4 *हिन्दी बनती हमें महान,

देश की है यह शान,,,,,,,

 

5 *अब ना कोई आकार दो ना कोई प्रकार दो,
बस हिंदी भाषा का ज्ञान दो।

 

6  *हर भाषा की इज्जत करो,

पर हिंदी को न बेइज्जत करो,

7  * है भारत की शान आगे इसे बढ़ाना है

हर दिन, हर पल, हमको हिन्दी दिवस मनाना है
8 *अंग्रेजी भाषा को पछाड़ दो
और हिन्दी भाषा को आकार दो।
 में आप सब से उम्मीद करता हु Hindi diwas kyo manaya jata hai ? आपको मेरा यह आर्टिकल पढ़ के अच्छा लगा होगा और हिंदी दिवस के मिलते झूलते सारे सवालो के जवाब हिंदी में ही मिल गए होंगे और आगे भी आपको interne पर ढूढ़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी मेरा यह मकसद रहेगा की आप तक सब कुछ हिंदी में और इसी allhindiway  site पर जानकरी देता रहु.
और हाँ इस भाषा को बढ़ावा देने के लिए इस लेख को अपने दोस्तों रिस्तेदारो के साथ जरूर साझा करीये ताकि जो इस दिवस के बारे में नहीं जनता हो वो भी अच्छी तरह से इस दिवस को जाने और अपनी मात्र भाषा के महत्व को समझे धन्येवाद। जय हिन्द ,जय भारत ,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here