Keyboard क्या हैं ? Keyboard के Shortcut Keys के बारे जानकरी।

Keyboard क्या हैं ? Keyboard के Shortcut Keys के बारे जानकरी।

हेल्लो दोस्तों ! आप सभी का एक बार फिर से हमारे इस नए पोस्ट में स्वागत है। दोस्तों अगर आप computer का इस्तमाल करते है तो आपने जरूर Keyboard का इस्तमाल किया होगा।

दोस्तों अगर आपको नहीं पता की Keyboard क्या होता हैं ? तो आज हम इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे कि Keyboard किसे कहते है ? और Keyboard के Shortcut Keys के बारे महत्वपूर्ण जानकरी। इससे जुड़ी और सारी बातों के बारे में जानेंगे तो चलिए आगे बढते है और जानते है।

Keyboard क्या हैं ? what is Keyboard in hindi

दोस्तों आपको बता दे की Keyboard बहुत सारे बटनों का एक समूह है जो आपको कंप्यूटर में किसी भी डेटा को दर्ज करने में सक्षम बनाता है। कीबोर्ड कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण इनपुट डिवाइस है।

इसकी सहायता से ही हम कंप्यूटर में इनपुट के रूप में Text और Numericals , Commands  डेटा दर्ज कर सकते हैं। यह बिल्कुल टाइपराइटर  के समान ही होता है।

क्योंकि कीबोर्ड के सभी अक्षर  टाइपराइटर के समान ही क्रम में होते हैं, लेकिन इसमें टाइपराइटर की बदौलत  अधिक बटन होते हैं। हमको जब कभी भी कंप्यूटर में कुछ करना होता है तो हमको उसके लिए इनपुट डिवाइस का ही इस्तेमाल करना पड़ता हैं।

जैसे की Keyboard और Mouse का प्रयोग करके ही हम कंप्यूटर को आदेश देते  हैं। Keyboard एक सबसे महत्वपूर्ण डिवाइस होता हैं। जिसके बिना कंप्यूटर में अधिकतम   कार्य करना संभव नही हैं। दोस्तों उम्मीद करता हुआ आप यह तो जान ही गए होंगे की Keyboard क्या हैं ? अब हम बात करंगे की Keyboard को कंप्यूटर के साथ कैसे Connect करते है ? तो चलिए जानते है बिना देरी किये।

यह भी पढ़े-   computer क्या है ? 

यह भी पढ़े –  mouse क्या है ? 

Keyboard को कंप्यूटर के साथ कैसे Connect करते है ?

Generally  Keyboard को computer से जोड़ने के लिए एक विशेष पोर्ट Port बनाया जाता है जिसे PS/2 पोर्ट कहा जाता है, लेकिन आजकल USB Keyboard आने लगे हैं, जिन्हें सिर्फ  computer के USB पोर्ट में प्लग करना होता है। और आपका कीबोर्ड computer से कनेक्ट हो जाएगा।

और हां आज कल Technology इतना ज्यादा आगे बढ़ गई कि  Keyboard  में भी वायरलेस कीबोर्ड आने लगे हैं जिन्हें सिस्टम से कनेक्ट करने की जरूरत नहीं होती है।

वर्ड प्रोसेसिंग और स्प्रेडशीट सॉफ्टवेयर में कीबोर्ड के उपयोग की आवश्यकता होती है। कीबोर्ड की मदद से कंप्यूटर को जरूरी  निर्देश भी दिए जा सकते हैं।

Mobile phone में Keyboard को कैसे जोड़ते है ?

दोस्तों क्या आप जानते है की आप अपने एंड्राइड मोबाइल फ़ोन में Keyboard का उपयोग करके tayping कर सकते है। तो दोस्तों अब हम आपको बताते है की mobile से keyboard को कनेक्ट करके tayping कैसे करे ?

दोस्तों मोबाइल से कीबोर्ड कैसे अटैच करे यह जानने के लिए आपको हमारे बताये गए स्टेप फॉलो करिये।

  •  यहां Mobile से Keyboard Attech करने के लिए आपको 2 चीजों की आवश्कता होगी 1. Otg Cable 2. Usb Keyboard यह वो चीजे है।  जिसका आपके पास होना जरुरी है.
  • इसके बाद आपको यह चेक करना है की आपका Mobile Otg support करता भी है या नहीं।
  • अगर करता है तो  अपने देखा होगा Otg Cable में एक मोबाइल चार्जर पिन की तरह एक पिन होती है.
  • और दूसरी तरफ usb port होता है.
  • अब आपको करना क्या है एक छोटी पिन वो अपने मोबाइल में लगानी है और दूसरी usb port कीबोर्ड से जोड़ देना है तरह से आप Mobile में Keyboard को जोड़के टायपिंग कर सकते है।

Android Phone को WiFi Keyboard से Connect कैसे करते है ?

आपको बता दे दोस्तों इसका तरीका भी बिलकुल आसान है। अगर आप जानना चाहते है की मोबाइल में wifi keyboard कैसे  जोड़ते है ? तो आपको हमारे बताये गए स्टेप फॉलो करने होंगे। जो की निम्नलिखित स्टेप है :-

  • सबसे पहले आपको करना क्या है google play store से वाईफाई कीबोर्ड app डाउनलोड करना होगा।
  • इसके बाद आपको app ओपन करके सेटिंग पेज खोल लेना है Language and Keyboard ढूंढ़ना होगा।
  • और कुछ मोबाइल में आपको Locale and text  ऑप्शन देखने को मिलगा।
  • Locale and text या language and keyboard ऑप्शन मी जाने के बाद आप WiFi keyboard का ऑप्शन को देखे सकते हो.
  • अब आपको करना क्या है अब आप अपने एंड्राइड फोन कोई भी एक इंटरनेट ब्राउज़र को लॉन्च करें जैसे chrome, opera. उसके बाद अपने मोबाइल  फोन में browser open करें और search bar में इस आईपी एड्रेस (http://192.168.1.8:12111) को पेस्ट करके enter key press करें।
  • इस आईपी पते के open होने के बाद आपका WiFi keyboard फ़ोन के साथ सक्सेस्फुल हो गया इस तरह से आप मोबाइल में wifi keyboard को जोड़ सकते है।

Android phone को ब्लूटूथ Keyboard से कैसे जोड़ते है ?

दोस्तों android device में ब्लूटूथ keyboard को जोड़ने के लिए हमारे बताये गए स्टेप फॉलो कीजिये।

  • सबसे पहले आपको अपने मोबाइल में और ब्लूटूथ keyboard दोनों ब्लूटूथ चालू कर लेना है।
  • इसके बाद अपने मोबाइल की ब्लूटूथ लिस्ट में देखे keyboard को सलेक्ट क्र लेना है।
  • इसी तरह से आसनी से आप कीबोर्ड कनेक्ट कर सकते है. और टायपिंग शुरू कर सकते है।

Keyboard किस सिद्धांत पर काम करता है ?

दोस्तों आपको बता दे की कीबोर्ड सिम्पली यूजर द्वारा दिये गए निर्देशों के अनुसार ही काम करता हैं। कीबोर्ड आमतौर पर  Circuits ,  Buttons और Processors से मिल कर बना हुआ होता हैं।

जिसकी मदद से ही कीबोर्ड में Type किये जाने  वाला कोई भी  Message Computer तक पहुचता हैं। keyboard में भी प्रोसेसर होता है। जिससे की वह सिस्टम तक इंफॉर्मेशन पहुचता हैं।

जैसे कि जब कभी भी हम कीबोर्ड में कुछ टाइप करते हैं तो उसके बाद उसको कंप्यूटर तक पहुंचाने के लिए एक बटन पर क्लिक करना होता है { ENTER } जब हम इंटर key दबाते हैं तो हमारे लिखे गए टेक्स्ट को वो प्रोसेस करके कंप्यूटर तक पहुंचाने का काम करता हैं ।

Keyboard के कितने प्रकार होते हैं ? हिंदी में

वैसे तो कीबोर्ड बहुत से प्रकार के होते हैं। लेकिन जो कीबोर्ड यूज करने में काफ़ी आसान और काफ़ी लोग इसको इस्तेमाल करते है आज हम उन्हीं के बारे में बात करेंगे तो चलिए जानते है keyboard के प्रकार हिंदी में ? 

1.Qwerty :- यह कीबोर्ड अभी के मॉडर्न ज़माने में सबसे अधिक यूज होने वाला और सबका पसंदीदा है । क्युकी इसकी लेआउट ही बहुत ही अच्छा तथा सिम्पल है । जो कि यूजर्स को फ्रीक्वेंट बनता है । इस कीबोर्ड में  पहले 6 अक्षरो के अनुसार ही Buttons दिए गए हैं। इसी के कारण अब हर देश में ज्यादातर इसी कीबोर्ड का उपयोग किया जाता है।

2.Azerty :-  Azerty कीबोर्ड को फ्रांस में विकशित किया गया था। और  यह Qwerty से अलग है एक दूसरे के हिसाब से Qwerty लेआउट का और इसे मानक फ्रेंच Keyboard भी माना जाता हैं।

3.Dvorak :- Dvorak  लेआउट को उँगली के मूवमेंट को कम करने के लिए खासतौर पर बनाया गया हैं। जोकि QWERTY और AZERTY keyboard की तुलना में बहुत जल्दी और तेजी से इसमें टाइप किया जा सकता हैं।

Keyboards के अलग अलग जेनेरेशन  के बारे में

  1. Normal Keyboard – इस कीबोर्ड में 104 बटन ही होते है।
  2. Multimedia Keyboard– इस केबोर्ड मे 104 से अधिक बटन होते है जिसमे मल्टीमीडिया से सम्बन्धित कुछ बटन्स होते है – Next, Mute, Volume +, Volume -, Mute, Pause, Play, Etc.
  3. Mechanical Keyboard– इस कीबोर्ड के बटन स्प्रिंग पर होते है जो थोड़े कड़े होते है। और इसको इस्तेमाल करते वक्त आपको थोड़ा ज्यादा प्रेशर लगाना पड़ेगा ।
  4. USB Keyboard– इस कीबोर्ड में आपको Normal, Multimedia, तथा Mechanical तिनो प्रकार के कीबोर्ड के फंक्शन्स मिलते है लेकिन इसमें कीबोर्ड का Connection Socket Pin Usb के जरिए  होता है।
  5. PS/2 Keyboard– इस कीबोर्ड के सॉकेट गोला आकर में 6 पिन का होता है।
  6. Wireless Keyboard– यह कीबोर्ड बिना तार का होता है जो Sensor के माध्यम से निकलने वाली Frequency के जरिये कनेक्ट होकर काम करता है। और यह बहुत ही अच्छा तथा सिम्पल टू कैरी होता है ।

Keyboard क्या हैं ? Keyboard के Shortcut Keys के बारे जानकरी।

 

Keyboard के बटन की जानकारी हिंदी में।

वैसे तो कीबोर्ड के Buttons manufacturers  और Operating System पर  निर्भर करती है. लेकिन आमतौर पर एक Keyboard में कुल 104 Keys होती है।

  1. Alphabet Keypad

Computer  कीबोर्ड के इस ग्रुप में A से Z के Alpha Key पाए जाते है।

  1. Numerical Key

इसमें Keyboard पर Number Key का एक ग्रुप होता है जिसमे 0 से 9 तक के Keys पाए जाते है। और इसे Alphanumeric Key के नाम से भी जाना जाता हैं। क्योंकि ये नंबर्स Key दो जगह होते हैं। एक Alphabets के ऊपर Row में होते हैं। दूसरा दाई ओर भी होते हैं। इसलिए

  1. Function Keypad

Function Key कीबोर्ड में  सबसे ऊपर वाले Row में होता हैं। इसे आप F1,F2,F3…से……..F12 के नाम से पहचान सकते हैं।

  1. Punctuation Key

Punctuation Key का मतलब होता हैं जो Key विराम Sings को रिप्रेजेंट करता हो । जैसे कि  ?,”#$%@*(! ;|

  1. Special or Command Key

इस key group में अलग अलग तरह के कमांड keys होते है जैसे कि – ctrl, Alt, Enter, Shift etc.

 

Typing Keys और उनका उपयोग

  1. Backspace key का उपयोग – Backspace का use आमतौर पर किसी भी टेक्स्ट को डिलीट करने के लिए किया जाता है या Cursor के आगे के तथा Selected text को delete करने के लिए किया जाता है.
  2. Shift Key का उपयोग – Shift Keys का उपयोग किसी भी letters को uppercase में लिखने के लिए किया जाता है. इसके अलावा किसी भी बटन के ऊपर वाले हिस्से ( फ़ॉन्ट्स ) को type करने के लिए भी हम Shift Keys का इस्तेमाल करते  है. शिफ्ट key keyboard में दो बार होता है लेफ्ट साइड और राइट साइड ।
  3. Caps Lock Key का उपयोग – इस बटन का उपयोग सभी letters को बड़ा टेक्स्ट में लिखने के लिए किया जाता है. जब Caps lock ऑन रहता है तो उसके बाद हम जो भी कंप्यूटर में लिखेंगे वो सब बड़े बड़े अक्षरों में हमारे स्क्रीन पर टाइप होगा और आपके कीबोर्ड में Right side में Caps lock का लाइट भी जलता रहता हैं.जैसे कि :-

    Uppercase Letters – A, B, C, D…

    Lowercase Letters – a, b, c, d…

  4. Spacebar Key का उपयोग – Spacebar Keyboard में सबसे बड़ी key होती है. इसका उपयोग Cursor को एक space आगे खिसकाने के लिए किया जाता है.
  5. Enter Key का उपयोग – Enter Key कीबोर्ड का  एक सबसे महत्वपूर्ण key है. और  इसका use अगली line शुरू करने के लिए या लाइन ब्रेक करने के लिए किया जाता है. जब Enter को दबाया जाता है तो Cursor अगली line के शुरूआत में चला जाता है. Enter Key ‘OK’ button का भी कार्य  करती है.
  6. Tab Keyका उपयोग –  Tab का use आमतौर पर एक साथ कई अक्षरों का space देने के लिए किया जाता है. इसके अलावा भी इसके कई सारे उपयोग है. Tab का use कुछ Keyboard में तो Shortcuts में भी किया जाता है. टैब बटन कम्प्यूटर में केवले एक ही होता है. जो कीबोर्ड में बाएं तरफ रहता हैं ।

Keyboard के सभी Shortcut Keys के बारे जानकरी।

  1. Ctrl+A :- फ़ाइल के सारे शब्दों को चुनने के लिए
  2. Ctrl+B :- चयनित शब्दों को बोल्ड करने के लिए
  3. Ctrl+C :- चुने गए आइटम को Copy करने के लिए
  4. Ctrl+E :- चयनित शब्दों को Center में align करने के लिए
  5. Ctrl+F :- खुले हुए डॉक्युमेंट या विंडो में find window खोलने के लिए
  6. Ctrl+I :- चयनित शब्दों को तिरछा करने के लि
  7. Ctrl+N :- नया या खाली डॉक्युमेंट बनाने के लिए
  8. Ctrl+O :- खुले हुए प्रोग्राम में फ़ाइल खोलने के लिए
  9. Ctrl+R :- डॉक्युमेंट में शब्दों को Replace करने के लिए
  10. Ctrl+S :- वर्तमान फ़ाइल को Save करने के लिए
  11. Ctrl+Q :- खुले हुए प्रोग्राम में फ़ाइल बंद करने के लिए
  12. Ctrl+U :- चयनित शब्दों को रेखांकित करने के लिए
  13. F1:- किसी भी हेल्प के लिए
  14. Alt+Tab :- खुले हुए प्रोग्राम को switch करने के लिए
  15. F5 :- विंडो को रिफ्रेस करने के लिए
  16. F12 :- फाइल को Save As करने के लिए
  17. Alt+E :- खुले हुए प्रोग्राम में कुछ एडिट करने के लिए
  18. F2 :- चुनी गयी फाइल का नाम बदलने के लिए
  19. Ctrl+J :- चयनित शब्दों को Justify में align करने के लिए
  20. Ctrl+Shift+F :- चुने हुए शब्दों का Font style बदलने के लिए
  21. Ctrl+> :- चुने हुए शब्दों का font size बढाने के लिए
  22. Ctrl+< :- चुने हुए शब्दों का font size को घटाने के लिए
  23. Ctrl+X :- चुने गए आइटम को Cut करने के लिए
  24. Shift+Del :- चुने गए आइटम को Cut करने के लिए
  25. Alt+F4:- विंडो को बंद करने के लिए
  26. Ctrl+Ins :- चुने गए आइटम को Cut करने के लिए
  27. Ctrl+V :- चुने गए आइटम को Paste करने के लिए
  28. Shift+Ins :- चुने गए आइटम को Paste करने के लिए
  29. Ctrl+Z :- पिछले एक्शन को फिर से (Undo) करने के लिए मतलब की अगर आप कुछ टाइप कर रहे हैं और वो गलती से डिलीट हो जाता है तो आप उसको फिर से undo कर पाएंगे ।
  30. Ctrl+Y :- जो टेक्स्ट undo किए उसको फिर से Redo करने के लिए इसका इस्तेमाल करें ।
  31. Ctrl+K :- चुने हुए शब्दों में Hyperlink जोड़ने के लिए
  32. Ctrl+P :- वर्तमान पेज या डॉक्युमेंट का प्रिंट निकालने के लिए

Home   पेज या विंडो के शुरुआत में जाने के लिए

  1. Ctrl+Home :- डॉक्युमेंट के शुरुआत में जाने के लिए

End      पेज या विंडो के आखिर में जानें के लिए

  1. Ctrl+End :- डॉक्युमेंट के आखिर में जानें के लिए
  2. Shift+Home :- लाइन की शुरुआत से वर्तमान स्थिति की highlights पर जाने के लिए
  3. Shift+End :- लाइन के आखिर से वर्तमान स्थिति की highlights पर जाने के लिए
  4. Ctrl+Left arrow :- एक समय में एक शब्द को बायीं तरफ ले जाने के लिए
  5. Ctrl+Right arrow :- एक समय में एक शब्द को दायीं तरफ ले जाने के लिए
  6. Ctrl+Esc START :- मेन्यु ओपन करने के लिए
  7. Ctrl+Shift+Esc :-विंडो टास्क मैनेजर ओपन करने के लिए
  8. Alt+F4 :- वर्तमान में एक्टिव विंडो को बंद करने के लिए।

आखिर में,

उम्मीद करता हु दोस्तों आपको यह Keyboard क्या हैं ? और keyboard कैसे काम करता है ? लेख अच्छा लगा होगा और भी बहुत से सवालो के जवाब आपको इस लेख में मिले होंगे जैसे Keyboard के Shortcut Keys के बारे जानकरी और भी बहुत से सवाल अगर और कुछ भी आपको पूछना है तो निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते है।

दोस्तों में आपसे आशा करता हु इस लेख को अपने दोस्तों के साथ Social media जैसे :-Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites पर जरूर share कीजिये। धन्यवाद